ट्रेन लाईव्ह प्रवाशी संघटना की जलगाव लोकसभा क्षेत्र के खासदार जी से हुई पहल – ट्रेन टाईम बदल करनेके बारेमे पुनर्विचार करे मध्य रेल के जी. एम को लिखा खत

0
206

महाराष्ट्र एक्सप्रेस का समय पहले जैसा किया जाए –संसद सदस्य उन्मेश दादा पाटील ईनकी मध्य रेल के जनरल मॅनेजर से पत्र लिखकर की मांग.

चाळीसगांव

        मेरे चुनावी क्षेत्र में (UP) 01040 (DN) 01039 गोंदिया – कोल्हापुर (महाराष्ट्र) एक्सप्रेस यह गाड़ी पिछले कही सालो से नादगाव, चालिसगाव, पाचोरा से जलगाव यह जिल्हे के गाव जाने के लिए रोजाना बेहतर सुविधा प्रदान कर रही थी | यह गाड़ी का समय पिछले समय सारणी नुसार चालिसगाव स्थानक पर सुबह 7 बजे का रहा है | जब की 7.40 पाचोरा, 8.25 जलगाव स्थानक पर यह गाड़ी पोहचने से इस गाड़ी से यात्रा करने वाले मंथली सीजन टिकिट (MST) धारक, सरकारी कर्मचारी, अलग अलग निजी क्षेत्र में काम करने वाले निजी कर्मचारी, तथा रोजाना सफ़र करने वाले यात्रीयो और जलगाव यह जिल्हे का स्थान होने से जिल्हा परिषद्, कलेक्टर ऑफिस और भी जिल्हा दप्तरोमें जाने वाले यात्रीयो, शिक्षा हेतु उपरोक्त रेल स्थानक से जलगाव जाने वाले छात्राओ, एैसे विभिन्न यात्रीयो को यह समय आवागमन के लिए बेहतर रहा है | मगर पिछले हफ्ते इस गाडी का समय एक घंटा पूर्व समय से पहले करानेसे यात्रीओ के तकलीफ भुगतनी पड रही है. इस लिये इस महाराष्ट्र एक्सप्रेस का पहले समय पहले जैसा किया जाए ऐसी मांग सासंद सदस्य उन्मेश दादा पाटील इन्होने मध्य रेल के जनरल मॅनेजरसे की है.

सांसद उन्मेश दादा पाटील इन्होने अपने पत्र मे लिखा है l चालिसगाव, पाचोरा तहसील के अडोस-पड़ोस के ग्रामीण क्षेत्र से सफ़र करने वाले यात्रीयो को भी बेहतर सुविधा (UP) 01040 (DN) 01039 गोंदिया – कोल्हापुर (महाराष्ट्र) एक्सप्रेस यह गाड़ीने आजतक बखूबी निभाई है | यह गाड़ी और गाड़ी का समय उचित होने से लगभग सेकड़ो यात्रीयो की यह गाड़ी सफ़र करने की पसंदिदा एक्सप्रेस साबित हुई है | मगर किसी की भी मांग ना होते हुए भी यह गाड़ी का उचित समय 1 घंटे पहले करने से यात्रीयो को दुःख झेलना पड रहा है |
मैं इस पत्र द्वारा आपसे गुजारिश करता हु (UP) 01040 (DN) 01039 गोंदिया – कोल्हापुर (महाराष्ट्र) एक्सप्रेस यह गाड़ी का समय पहले की तरह चालिसगाव स्थानक पर सुबह 7 बजे, 7.40 पाचोरा, 8.25 जलगाव स्थानक कीया जाए | अन्यथा इस समस्या हेतु सभी यात्रीयो के साथ मुझे भी रेल रोको आन्दोलन में शामिल होना पड़ेगा इससे उत्पन्न परिस्थितियो को रेल विभाग जिम्मेदार रहेगा | यात्रीयो का रोष बढ़ने से पहले कृपया मेरी इस आवेदन का गंभीरता से निवारण करे |